AdSense In-Article Ad Unit से अपने वेबसाइट का Ad Revenue कैसे बढ़ाये ?

Google AdSense ने In-Article Ad Unit को हाल ही में लांच किया है। यह एक Google-optimized ad format है जो की हमारे आर्टिकल्स के पैराग्राफ के बिच में Native Ads को दिखने में समर्थ है। इस लेख में हम जानेंगे की AdSense in-Article Ad Unit से अपने वेबसाइट का Ad Revenue कैसे बढ़ाये ? उससे पहले हम In-Article Ads के बारे में कुछ जान लेते है। In-Article Ads एक responsive ad है इस वजह से यह display के हिसाब से खुद का अकार चेंज कर लेता है।

AdSense In-Article Ad Unit के फायदे :

  • Better user experience
  • Ideal for mobile
  • Google optimized

AdSense In-Article Ad Unit दूसरे Ads से कैसे अलग है :

  • ये बहुत ही high quality advertiser ad elements का युस करते है।
  • और पैराग्राफ के बिच में और आर्टिकल के फॉर्मेट में होने के कारन यह बहुत ही बेहतरीन यूज़र एक्सपेरिंस देते है।

AdSense In-Article Ads CPM/RPM Rates & Performance :

AdSense in-Article Ad Unit

AdSense in-Article Ad Unit

हमने test करने के लिए अपने दो Blog में In-Article Ads को एक्टिव किया और नतीजा आप निचे के इमेज में देख सकते हो जिससे आपको खुद पता चल जायेगा की इसे युस करना चाहिए या नहीं। इस टेस्ट में हमें click-through-rate 0.4% मिला। average CPC $0.24 प्राप्त हुआ जो की www ट्रैफिक के लिए एक अच्छी बात है। हमने 1162 impressions के द्वारा करीब $1.20 की कमाई की। और active viewable view rate करीब 60% के लगभग रहा जबकि Ad request RPM $1 मिला।

अब हम दूसरे वेबसाइट की ओर बढ़ते है। यह एक ब्लॉग है जो education से रिलेटेड है और इसका अधिकतम ट्रैफिक india से आता है। इस वेबसाइट का रिजल्ट आप निचे के इमेज में देख सकते हो।

AdSense in-Article Ad Unit

AdSense in-Article Ad Unit

तो आप देख सकते है की इस ब्लॉग के लिए हमें उतने अच्छे रिजल्ट प्राप्त नहीं हुए जितने के पहले वाले वेबसाइट के लिए प्राप्त हुए थे।

तो अगर आप अपने वेबसाइट से अच्छी कमाई करना चाहते है तो आपको In-Article Ads के साथ साथ banner ads का भी उपयोग करना पड़ेगा जिससे आप अपने साइट की overall revenue बड़ा सकते है। अगर आप ने अभी तक इसे नहीं आज़माया है तो मेरी यही सलहा होगी की आप इसे जरूर आजमाए यह आपको कम से कम 30% overall revenue ग्रोथ दे सकता है।

Tags:

We will be happy to hear your thoughts

Leave a reply